वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप 1 अगस्त से, भारत का पाक-श्रीलंका से मैच नहीं, 22 महीनों में 144 टेस्ट;

1 अगस्त से शुरू हो रही है वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप है। इसकी शुरुआत ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच होने वाले पहले टेस्ट से इसकी  होगी। जून 2021 तक यह चैम्पियनशिप चलेगी। फाइनल मुकाबला, इस दौरान टॉप पर रहने वाली दो टीमों के बीच खेला जाएगा। टेस्ट क्रिकेट को रोचक बनाने के लिए चैम्पियशिप की शुरुआत आईसीसी ने इसकी शुरुआत की है। इसके लिए उन्होंने डे-नाइट टेस्ट की भी शुरू किए। भारतीय टीम चैम्पिनशिप में 6 देशों के खिलाफ खेलेगी। वह सिर्फ पाकिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ नहीं खेलेगी।

चैम्पियनशिप का प्लान कब बना?
आईसीसी को इस चैम्पियनशिप का आइडिया 2009 में आया। 2010 में इसे स्वीकृति दे दी गई। आईसीसी चाहती थी कि 2013 में इसकी शुरुआत हो जाए, लेकिन तब यह टल गई। इसे 2017 में शुरू करने की योजना बनी, लेकिन दोबारा से तारीखों को बढ़ा दिया गया था।

किस टीम का किससे मुकाबला?
12 टेस्ट खेलने वाले देशों में से टॉप-9 टीमें ही इस चैम्पियनशिप में खेल सकती हैं। आयरलैंड और अफगानिस्तान को टूर्नामेंट में खेलने का मौका नहीं मिला। दूसरी ओर जिम्बाब्वे की टीम प्रतिबंधित हो चुकी है। वर्ल्ड चैम्पियनशिप में सभी टीमें 6 सीरीज खेलेंगी। इनमें तीन सीरीज घरेलू और तीन विदेशी जमीन पर होंगी। एक सीरीज में कम से कम दो और ज्यादा से ज्यादा 5 टेस्ट खेले जा सकते हैं। लीग राउंड के खत्म होने के बाद जून 2021 में इंग्लैंड के ग्राउंड पर फाइनल खेला जाएगा।

रैंक टीम टेस्ट घरेलू धरती पर किससे विदेशी मैदान पर किससे किसके खिलाफ मैच नहीं
1 भारत 18 10 (द. अफ्रीका, बांग्लादेश, इंग्लैंड) 8 (वेस्टइंडीज, न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया) पाकिस्तान, श्रीलंका
2 न्यूजीलैंड 14 7 (भारत, वेस्टइंडीज, पाकिस्तान) 7 (श्रीलंका, ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश) इंग्लैंड, द. अफ्रीका
3 द. अफ्रीका 16 9 (इंग्लैंड, श्रीलंका, ऑस्ट्रेलिया) 7 (भारत, वेस्टइंडीज, पाकिस्तान) बांग्लादेश, न्यूजीलैंड
4 इंग्लैंड 22  11 (ऑस्ट्रेलिया, वेस्टइंडीज, पाकिस्तान) 11 (द. अफ्रीका, श्रीलंका, भारत) बांग्लादेश, न्यूजीलैंड
5 ऑस्ट्रेलिया 19 9 (पाकिस्तान, न्यूजीलैंड, भारत) 10 (इंग्लैंड, बांग्लादेश, द. अफ्रीका) श्रीलंका, वेस्टइंडीज
6 श्रीलंका 13 7 (न्यूजीलैंड, इंग्लैंड, बांग्लादेश) 6 (पाकिस्तान, द. अफ्रीका वेस्टइंडीज) भारत, ऑस्ट्रेलिया
7 पाकिस्तान 13 6 (श्रीलंका, बांग्लादेश, द. अफ्रीका) 7 (ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड) भारत, वेस्टइंडीज
8 वेस्टइंडीज 14 6 (भारत, द. अफ्रीका, श्रीलंका) 9 (इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, बांग्लादेश) ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान
9 बांग्लादेश 15 7 (ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, वेस्टइंडीज) 7 (भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका) इंग्लैंड, द. अफ्रीका

अंक किस तरह दिए जाएंगे?
सभी सीरीज के 120 अंक होंगे। दो साल में एक टीम को ज्यादा से ज्यादा 720 अंक मिल सकते हैं। पांच टेस्ट की सीरीज में एक मैच के 24 अंक होंगे। चार टेस्ट की सीरीज में एक मैच के 30 अंक, तीन टेस्ट की सीरीज में एक मैच में 40 और दो टेस्ट की सीरीज में एक मैच के 60 अंक दिए जाएंगे।

पॉइंट सिस्टम

कितने मैच की सीरीज 1 मैच जीतने पर अंक टाई पर अंक ड्रॉ पर अंक हारने पर अंक
2 60 30 20 0
3 40 20 13.3 0
4 30 15 10 0
5 24 12 8 0

फाइनल ड्रॉ होने पर क्या होगा?
फाइनल मैच ड्रॉ या टाई होने पर लीग राउंड के दौरान अंक तालिका में टॉप पर रहने वाली टीम को विजेता घोषित किया जाएगा। इस तरह से पहले स्थान पर रहने वाली टीम किसी तरह खिताबी मुकाबले को कम से कम ड्रॉ या टाई कराना चाहेगी। वहीं, दूसरे स्थान पर रहने वाली टीम को हर हाल में जीतना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here