छत्तीसगढ़ी सुपरस्टार एप्पी राजा व उनके साथियों के ऊपर हुआ जानलेवा हमला, मामला पहुंचा थाने…

अंबिकापुर, जितेंद्र जायसवाल – नाम जाना पहचाना लग रहा है चेतन चांडक पेसे से गायक है, इनका निवास भानुप्रतापपुर, कांकेर के मूल निवासी हैं। लाखों दिलों में राज करने वाला शख्स  छत्तीसगढ़ी रैप संगीत सुनाते हैं, जिनको रायपुर की एक इवेंट कराने वाली संस्था ए दाई के द्वारा अंबिकापुर कला केंद्र मैदान में दिनांक 06/10/2019 को कार्यक्रम निर्धारित किया गया था। जिसमें बतौर मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टी० एस० सिंहदेव, बतौर विशिष्ट अतिथि अंबिकापुर के महापौर अजय तिर्की व शहर के कई नामचीन हस्तियां शामिल हुए। कार्यक्रम में करीब 5000 से अधिक लोग हिस्सा लेकर आयोजन को सफल बनाएं।
एप्पी पर हमला क्यों और किसने किया…
ए दाई इवेंट ऑर्गेनाइजर के संचालक मिनाल चौहान ने एप्पी राजा के कार्यक्रम को कराने एक साउंड सिस्टम वाले जिसका नाम अमित सिंह जिसका व्यवसायिक स्थल शहर के धार्मिक स्थल मां समलाया मंदिर के ठीक सामने है उसको बतौर एडवांस ₹5000 दिया गया कार्यक्रम के ठीक 1 दिन पहले 05/10/2019 को अमित सिंह ने उसके पास लेबर व आपरेटर न होने का बहाना बताते हुए साउंड सिस्टम लाने से मना कर दिया। आनन-फानन में इवेंट ऑर्गेनाइजर के संचालक ने दूसरा साउंड सिस्टम किया जिसके वजह से कार्यक्रम ढाई घंटे विलंब शुरुआत हुई उक्त कार्यक्रम में ऑर्गेनाइजर का लाखों का नुकसान हुआ। कार्यक्रम के पश्चात दिनांक 07/10/2019 करीब दोपहर 3:30 बजे आसपास मिनाल चौहान ने पूर्व में कैंसिल किए साउंड सिस्टम के संचालक अमित सिंह के पास फोन लगा एडवांस की रकम वापस मांगने की अपील की। अमित ने यह आश्वासन दिया कि उक्त रकम मेरे कार्यालय से आप प्राप्त कर सकते हैं, मिनाल, सुभेश साहू, एप्पी राजा के साथ अन्य लोग एक ही कार से उसके बताए हुए पते पर पहुंच गए जहां पर अमित सिंह व पवन मानिकपुरी के साथ करीब 20-25 साथियों द्वारा मिनाल के साथ गंदी-गंदी गाली देते हुए हाथापाई करने लगे। इसी बीच मिनाल के हाथों से सोने की अंगूठी व कार से ₹38000 लूट लिया गया।
एप्पी राजा का आरोप…
अमित सिंह, पवन व उनके 20-25 साथियों के द्वारा मुझे घटनास्थल पर गंदी गंदी गाली देते हुए जैसे ही मेरे साथ मारपीट के लिए आगे बढ़े इतने में एक पत्रकार वहां आ पहुंचे और मुझे घटनास्थल से अपनी वाहन पर बिठाकर सीधा थाना अंबिकापुर सिटी कोतवाली लेकर आए जहां हमने लिखित शिकायत देकर कार्यवाही की मांग की है।
इवेंट ऑर्गेनाइजर मिनाल चौहान का आरोप…
मेरे व मेरे साथियों के साथ अमित सिंह पवन मानिकपुरी व 20-25 साथियों के द्वारा पहले तो जानलेवा हमला किया गया वह मेरे हाथ से सोने की अंगूठी, कार में रखे ₹38000 लूट लिए गए। जिसकी लिखित शिकायत पुलिस थाना अंबिकापुर कोतवाली में किया गया है।
मृतक पंकज बेक की आत्मा थाना कोतवाली को छोड़ने का नाम नहीं ले रही…
पहले तो हम बात करते हैं उस लिखित सूचना की जिसमें छत्तीसगढ़ के सुपरस्टार एप्पी राजा के कार्यक्रम में सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए इवेंट ऑर्गेनाइजर ने एक लिखित सूचना पुलिस थाना अंबिकापुर में दी थी, पर कला केंद्र मैदान में करीब 5000 फैंस के बीच एक भी पुलिसकर्मी मौजूद न दिखा। 07/10/2019 को हुए घटना की जानकारी कोतवाली थाना प्रभारी को तत्काल दी गई थी पर घटनास्थल से पुलिस पेट्रोलिंग की गाड़ी घटना को देखते हुए वहां से चली गई। छत्तीसगढ़ी सुपरस्टार के ऊपर हमला हुआ पर 24 घंटे बीत जाने के बावजूद किसी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई, इस बात से प्रतीत होता है कि थाना कोतवाली के ही पुलिस अभिरक्षा में हुई पंकज बेक की मौत के बाद थाना असामान्य हो चला है जहां कुछ भी संभव है लगता है जब-तक मृतक पंकज बेक की भटकती आत्मा को शान्ति/न्याय नहीं मिलेगा तब-तक इसी तरह थाने के अंतर्गत असामान्य घटनाएं होती रहेंगी।
कलाकारों के लिए सही जगह नहीं अंबिकापुर – एप्पी
सुपरस्टार एपी राजा ने अपने बयान में कहा कि कलाकारों के लिए सही जगह नहीं अंबिकापुर हमने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के विचारों को जन-जन तक पहुंचाने व छत्तीसगढ़ी कलाकारों के प्रोत्साहन हेतु अंबिकापुर में कार्यक्रम रखा था पर यहां के लोगों द्वारा हमारे साथ अविश्वसनीय कृत किया गया जिससे मैं पूरी तरह आहत हूं व सहमा हुआ हूं। यहां की पुलिसिंग फिसड्डी साबित हुई जिसकी मैं घोर निंदा करता हूं।
 
ऐसा पहली बार नहीं हुआ…
 
छत्तीसगढ़ी सुपरस्टार एप्पी के साथ ऐसा दुर्व्यवहार अंबिकापुर में पहली बार नहीं हुआ इससे पहले भोजपुरी सुपरस्टार मनोज तिवारी, पवन सिंह व डांसर सपना चौधरी के साथ भी अमानवीय कृत्य हो चुके हैं। जिससे नाराज होकर कई कलाकार अपनी कला का प्रदर्शन अंबिकापुर में नहीं करना चाहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here