काले शीशे वाली कार में चलते हैं आप तो जान ले इससे जुड़े नियम, नहीं तो भरना पड़ेगा भारी जुर्माना

आपने सड़क पर चलने वाली कई कारों के शीशों पर काले रंग की फिल्म चढ़ी हुई जरूर देखी होगी। कई लोग धूप से बचने के लिए ऐसा करते हैं तो कई लोग इसे शौकिया तौर पर अपनी कार के शीशों पर चढ़वाते हैं। हालांकि ऐसा करने से आपकी कार पर भारी जुर्माना किया जा सकता है।

दरअसल कई बार काली फिल्म लगे हुए शीशे वाली कारों का इस्तेमाल आपराधिक कामों में किया जा चुका है। ऐसे में पुलिस और प्रशासन अब ऐसी कारों को रोककर उनपर भारी जुर्माना करते हैं, साथ ही शीशों पर चढ़ी काली फिल्म को भी उतार दिया जाता है। कार के शीशों पर काली फिल्म लगाना पूरी तरह से बैन है, हालांकि टिंटेड ग्लास का इस्तेमाल करने की छूट है।

जानें क्या है नियम: अगर आप अपनी कार में टिंटेड ग्लास का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसके लिए भी कुछ नियम हैं। इस तरह के ग्लास का इस्तेमाल सिर्फ एक ही शर्त पर किया जा सकता है, और वो शर्त ये कि विंडस्क्रीन और रियर विंडो ग्लास की पारदर्शिता कम से कम 70 फीसद होनी चाहिए वहीं साइड विंडो के ग्लास की पारदर्शिता 50 फीसद होनी चाहिए। पारदर्शिता अगर तय नियम से कम होती है तो ऐसी कारों पर भारी चालान का प्रावधान है।कारों का इस्तेमाल आपराधिक कामों में ना हों इसीलिए कार के ग्लास को लेकर ये नियम बनाया गया है हालांकि इस नियम के बावजूद कार में फिल्म लगाकर घूमने वाले लोगों की संख्या में कुछ ख़ास कमी नहीं आई है।

आपको बता दें कि गर्मियों के टिंटेड ग्लास की डिमांड सबसे ज्यादा होती है क्योंकि लोग तेज धूप से बचने के लिए इनका इस्तेमाल करते हैं, हालांकि आपकी कार में तय नियम के अनुसार टिंटेड ग्लास नहीं लगा है तो आपको भारी चालान भरना पड़ सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here