POLITICS : गृहमंत्री शाह पर विधायकों को बरगलाने का आरोप… तो मिला करारा जवाब… पढ़े सियासी ड्रामा

राजस्थान में एक बार फिर से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच का सियासी ड्रामा शुरू हो गया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बीजेपी पर एक बार फिर से अपनी सरकार गिराने की साजिश रचने का आरोप लगाया है।

इस बीच सीएम अशोक गहलोत ने आज मंत्रिपरिषद की बैठक बुलाई है। माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सरकार गिराने के बारे में अपनी बातों को अपने मंत्रिपरिषद के सहयोगियों के सामने रखेंगे और उनसे चर्चा करेंगे।

इस बीच पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट भी जयपुर पहुंच गए हैं। राज्य में तेजी से बदलते राजनीतिक घटनाक्रम में प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह को डोटासरा को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने श्रीगंगानगर से किसान सम्मेलन रद्द कर बीच में ही जयपुर बुला लिया है।

डोटासरा ने कहा कि हमारे पास प्रमाण है कि अमित शाह हमारे विधायकों को खरीदने में लगे हैं। दरअसल सूत्रों के अनुसार कहा जा रहा है कि 3 निर्दलीय विधायक और दो बहुजन समाज पार्टी से कांग्रेस में आए विधायकों ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से कहा है कि उनसे फिर से संपर्क करने की कोशिश की जा रही है।

हालांकि, बीजेपी और पायलट गुट का कहना है कि यह सब सोची समझी रणनीति का हिस्सा है, अगर किसी विधायक ने यह बात मुख्यमंत्री से कही है तो इसलिए कही है क्योंकि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उसे मंत्री बनाने का वादा किया था और मंत्री नहीं बना रहे हैं। पायलट गुट इस पूरे मामले पर चुप्पी साधे हुए है।

इस बीच सियासी ड्रामे के बाद पहली बार पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट और प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा आज जयपुर में मुलाकात करेंगे. माना जा रहा है कि मुलाकात में कांग्रेस संगठन में नियुक्तियों को लेकर चर्चा होगी. जिस तरह से नियुक्तियों का काम और मंत्रिमंडल में फेरबदल की चर्चा शुरू हुई है मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बयान को इससे भी जोड़कर देखा जा रहा है. माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पायलट गुट ने बर्खास्त मंत्रियों की बहाली रोकने के लिए एक बार फिर से सरकार गिराने की कोशिशों का आरोप लगाया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here