बड़ा फर्जीवाड़ा! इस यूनिवर्सिटी ने फेल छात्रों को दे दी पास की मार्कशीट

जीवाजी विश्वविद्यालय में हुए फर्जी मार्कशीट कांड के मामले को लेकर अब एबीवीपी ओर विश्वविद्यालय के कार्य परिषद सदस्यों ने मोर्चा खोल दिया है। एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने कार्य परिषद के साथ मिलकर विश्वविद्यालय की कुलपति संगीता शुक्ला के बंगले का घेराव कर दिया। साथ ही गेट के बाहर धरने पर बैठ गए। आनन-फानन में भारी पुलिस फोर्स मौके पर पहुंचा। लेकिन करीब छह घंटे तक चले इस प्रदर्शन में घोटाले को लेकर कुलपति कोई ठोस आश्वसन नहीं दे पायी।

दरअसल जीवाजी विश्वविद्यालय में बीएससी नर्सिंग चतुर्थ वर्ष (परीक्षा जून 2019) की फर्जी मार्कशीट बनाने की शिकायत कुलपति से एबीवीपी ने की थी। जिसमें आरोप लगाया है कि चार्ट में विद्यार्थी फेल हैं, लेकिन अधिकारियों ने पास की मार्कशीट बनाकर दे दी है। ईसी मेंबर के विरोध में आने के बाद पूरे मामले की जांच कराई गई। मेडीकल शाखा से चार्ट व रिकार्ड जब्त किया गया। चार्ट व मार्कशीटों का मिलान किया गया, जिसमें एक बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया था। जून 2019 की परीक्षा के उन छात्रों को पास की मार्कशीटें बनाकर दे दी, जो फेल थे।

जिसके बाद जेयू ने आनन-फानन में एक सूचना जारी कि बीएससी नर्सिंग चतुर्थ वर्ष जून-2019 की परीक्षा की मार्कशीटें त्रुटिपूर्ण जारी हो गई हैं। साथ ही मामले की जांच के लिए 3 प्रोफेसरों की जांच कमेटी बना दी थी। जिसने पूरे मामले पर अपनी रिपोर्ट कुलपति को सौंप दी है। लेकिन कुलपति ने उस पर कोई एक्शन नही लिया है….जिस पर एबीवीपी और जेयू के कार्यपरिषद के सदस्य कुलपति का घेराव कर रहे हैं। वहीं कुलपति का कहना है कि इस मामले में वह किसी को नहीं बख्शने वाली हैं…. ये सही है कि फेल छात्रों को पास की मार्कशीट दे दी गयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here