नगर पालिका राजस्व विभाग के कर्मचारियों ने बनाया मौका पंचनामा,ईश्वर को नही मालूम किसका है अवैध निर्माण।

मित्र को दी शासकीय जमीन में कब्जा करने की खुली छूट!

अनूपपुर।पूर्वकाल से ही एक कहावत प्रचलित है कि ईश्वर की मर्जी के बगैर पत्ता नही हिलता। मगर बात नगर पालिका परिषद कोतमा के राजस्व निरीक्षक ईश्वर की करें तो नगर में शासकीय जमीन में कहां-कहां अवैध निर्माण चल रहे इसका पता स्वयं ईश्वर को नही है। जब इस संबंध में ईश्वर से बात की गई तो उनका कहना था कि निर्माण कर्ता के सम्बंध में कोई जानकारी न मिलने पर अज्ञात के नाम से कैसे नोटिश काट दे! अब सीधी सी बात है कि जब ईश्वर को ही कुछ नही पता तो फिर मुख्य नगर पालिका अधिकारी व नगर पालिका अध्यक्ष को नगरीय क्षेत्रों के अवैध निर्माणों की जानकारी कैसे पहुंचेगी, अब यह ईश्वर ही जाने।

कोतमा।


मामला कोतमा नगर अंतर्गत वार्ड नं 4 नगर पालिका कार्यालय से चंद कदमों की दूरी पर बिजली आफिस रोड स्थित जगदीश शुक्ला (मास्टर) के घर के सामने रिक्त पड़ी शासकीय भूमि पर पुनः अवैध कब्जे का है, जिस ओर नगर पालिका का ध्यान नही जा रहा है। बीते दिनों उक्त भूमि पर अवैध कब्जा किया जा रहा था तो तत्कालीन कोतमा एसडीएम अमन मिश्रा एवं तत्कालीन नगर पालिका सीएमओ द्वारा उक्त शासकीय भूमि पर चल रहें अवैध निर्माण कार्य पर रोक लगा दी गई थी। लेकिन एसडीएम अमन मिश्रा एवं नगर पालिका सीएमओ के स्थानांतरण होते ही उक्त शासकीय भूमि पर एक बार फिर अवैध रूप से निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है।

नगर पालिका कर्मचारियों के आवास हेतु आवंटित भूमि पर हुआ कब्जा।


बता दें कि वर्ष 2017 दिनांक 16 जून को नगर पालिका सभा कक्ष में स्वर्गीय राजेश सोनी की अध्यक्षता में प्रेसिडेंट काउंसिल की बैठक की गई थी। जिसमें पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष स्व. राजेश सोनी सहित सभापति अजय तोमर, राजेन्द्र सोनी, रोशन वारसी, मो. मुफीद, राम मिलन, श्रीमती संगीता सोनी, श्रीमती रानी सिंह उपस्थित थे। उक्त बैठक में सभी की सहमति से यह निर्णय लिया गया था कि रिक्त पड़ी उक्त शासकीय भूमि पर नगर पालिका कर्मचारियों के लिए आवास बनाया जाएगा। वहीं मुख्यमंत्री आश्रय योजना अंतर्गत उक्त भूमि पर ही 60 वर्ग मीटर भूमि का पट्टा श्रीमती कमला प्रजापति को वितरण किया गया था। लेकिन नगर पालिका कर्मचारियों के लिए आवास बनाने का प्रस्तावित मामला ठंडे बस्ते में डाल दिया गया और उक्त भूमि पर नगर के सभ्य समाज सेवी पूजी पति दबंगो द्वारा अवैध रूप से खुलेआम कब्जा किया जा रहा और राजस्व विभाग व नपा प्रशासन चुप्पी साधे हुए है। जिस कारण दबंगो ने बिना नेह-कालम खड़ा किए सटासट ईंट और गारे से रातों रात दीवार खड़ी कर दरवाजा खिड़की फिट कर लिया।

पार्षद अजय तोमर ने की परिषद में लिखित शिकायत।


उक्त अवैध निर्माण की शिकायत वार्ड नं 6 के पार्षद अजय तोमर ने अपने लेटर पैड में लिखित में नगर पालिका में किये हैं। जिस पर मौका पंचनामा बनाने गए राजस्व निरीक्षक कर्मचारी ईश्वर को निर्माण कर्ता के सम्बंध में कोई जानकारी नही है व शून्य पर पंचनामा बनाकर ले आये। मीडिया द्वारा मुख्य नगर पालिका अधिकारी विकास चन्द्र मिश्रा व नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमति मोहिनी वर्मा से जब उक्त सम्बन्ध में जानकारी ली गयी तो उन्होंने कहा कि शासकीय जमीन पर कोई भी अवैध निर्माण स्वीकार नही किया जाएगा। उस पर विधिवत कार्यवाही कर निर्माण तोड़ा जाएगा। वही नगर पालिका के राजस्व निरीक्षक ईश्वर ने निर्माण कर्ता के सम्बंध में कोई जानकारी न मिलने पर अज्ञात के नाम से कैसे नोटिश काट दे। नगर पालिका के ईश्वर को कुछ नही पता फिर मुख्य नगर पालिका अधिकारी व अध्यक्ष को नगरीय क्षेत्रों के अवैध निर्माणों की जानकारी कैसे पहुंचेगी यह ईश्वर ही जाने।

इनका कहना है –

शासकीय जमीन पर कोई भी अवैध निर्माण स्वीकार नही किया जाएगा। अगर हुआ है तो उस पर विधिवत कार्यवाही कर निर्माण तोड़ा जाएगा।
श्रीमती मोहिनी वर्मा
अध्यक्ष नपा परिषद कोतमा

जब उक्त भूमि पूर्व में ही नगर पालिका कर्मचारियों को आवंटित हो गई है। तो ऐसे में नगर पालिका को अवैध कब्जा करने वाले पर कार्यवाही करनी चाहिए।
सुनील सराफ
विधायक कोतमा

वार्ड क्र. 4 में अवैध निर्माण कार्य चल रहा है जिसकी शिकायत मैंने लिखित रूप में की है। चल रहे उक्त अवैध निर्माण कार्य को तत्काल रोक कर कार्यवाही की मांग करता हूँ।
अजय तोमर
पार्षद वार्ड क्र.06 नपा कोतमा

मैं अभी राजस्व स्टाफ को बुलाकर जानकारी लेता हूँ। यदि सरकारी जमीम पर अवैध निर्माण चल रहा तो उक्त अवैध निर्माण को ध्वस्त कर बेदखली की कार्यवाही की जाएगी।
विकास चन्द्र मिश्रा
मुख्य नगर पालिका अधिकारी

जानकारी मिलने पर निर्माण स्थल पर नगर पालिका स्टाफ गया था। मौके पर कोई भी निर्माण सम्बन्ध में कोई जानकारी नही मिली। कार्य कर रहे मजदूरों से दस्तखत करवाकर पँचनामा बनवा लिया गया है। निर्माण किसका चल रहा है इसकी कोई जानकारी नही है तो नोटिस किसके नाम काटें।
ईश्वर दास राजस्व निरीक्षक नपा कोतमा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here