खेतपारा की श्मशान भूमि हुई अतिक्रमण मुक्त-निगम का चला बुलडोजर।

प्रभावितों को कराया जा रहा ए एच पी के मकानो में ब्यवस्थित-कमिश्नर आशुतोष पांडेय

रायगढ़। कैलाश आचार्य:- जिला कलेक्टर भीम सिंह के निर्देशन में नगर निगम प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन द्वारा शहर के वार्ड क्रमांक 38 में शमशान की आरक्षित भूमि को अतिक्रमण मुक्त कराया गया जिसकी लंबे समय से शिकायतें भी हो रही थी।
ज्ञात हो कि नगर निगम आयुक्त आशुतोष पांडे के नेतृत्व में तोड़ू दस्ता दल द्वारा वार्ड क्रमांक 38 खेत पारा में शासकीय नजूल भूमि जो कि शमशान के लिए आरक्षित है को अतिक्रमण मुक्त कराया गया,बताया जाता है लंबे समय से भू माफियाओं द्वारा उक्त स्थल पर जमीन की खरीद-फरोख्त कर शासन की जमीन को चुना लगाया जा रहा था वार्ड के पार्षद मुरारी भट्ट एवं जागरूक निवासियों द्वारा कई बार प्रशासन से शिकायत भी की गई शिकायत के बाद जिले के कलेक्टर भीम सिंह ने भी निरीक्षण कर उक्त स्थल को कब्जा मुक्त कराने आदेशित किया था वर्तमान में शहर स्वच्छ और अतिक्रमण मुक्त करने अभियान भी निगम द्वारा चलाया जा रहा है जिसमें तालाब चौक चौराहे मुक्तिधाम आदि को सौन्दर्यीकरण भी किया जा रहा है उसी क्रम में आज कमिश्नर पांडे के नेतृत्व में एवम पुलिस प्रशासन से टी आई अमित शुक्ला एवम टीम के सहयोग से लगभग 17 मकानों को तोड़ूदस्ता दल द्वारा ध्वस्त किया गया साथ ही प्रभावित लोगों को प्रधानमंत्री आवास अंतर्गत एएचपी के मकान में व्यवस्थापित भी कराया गया।
नगर निगम आयुक्त आशुतोष पांडे ने बताया कि वार्ड क्रमांक 38 खेत पारा में शमशान की जमीन थी जिस पर अवैध अतिक्रमण किया जा रहा था जो शासकीय नजूल भूमि है कलेक्टर सर ने निरीक्षण दौरान इसे तत्काल हटाने निर्देश दिया था 2 महीने से कार्यवाही प्रगति पर थी इन्हें नोटिस भी दिया गया था लगातार बुलाकर बार-बार समझाईस भी दी गई थी कि वहां से कब्जा हटा लें नहीं हटाया गया इसलिए पुलिस प्रशासन के सहयोग से इनको बलपूर्वक खाली कराया गया यहां प्रभावित लोग हैं जिनका कहीं और घर नहीं है उन्हें पीएम आवास में ए एच पी की मकानों में ब्यवस्थापित किया जा रहा है और इनकी देखभाल के साथ बुनियादी सुविधाओं का व्यवस्था भी किया जा रहा हैं।

पार्षद प्रतिनिधि मुरारी भट्ट ने बताया कि मैं प्रशासन और शासन दोनों का तहे दिल से धन्यवाद देता हूं कि वर्षों की अतिक्रमण की प्रथा मेरे वार्ड में थी वह खत्म हुआ 10 12 वर्षों से यहां अतिक्रमण था जबकि उनके खुद के मकान हैं शासन की नजूल भूमि जो आरक्षित थी उसको घर बनाए थे वही अपने घर को किराए में दिए हुए थे जमीन का खरीद-फरोख्त भी कर रहे थे दो-तीन शिकायत भी आया था उसका कॉपी मैं रखा हूं भू माफिया सक्रिय थे निगम प्रशासन के साथ स्वयं आयुक्त जी ने कलेक्टर सर के साथ निरीक्षण किया था और मामला सही पाया था उस पर कार्यवाही की गई मैं विधायक महापौर कलेक्टर आयुक्त को इस कार्यवाही पर सहयोग के लिए साधुवाद देता हूं।

नगर निगम के अतिक्रमण प्रभारी अधिकारी भूपेश सिंह ने बताया कि आयुक्त सर के आदेशानुसार अभी मुझे अतिक्रमण प्रभारी अधिकारी बनाया गया है वार्ड क्रमांक 38 के खेत पारा में अवैध अतिक्रमण किया गया था जिन्हें पूर्व में नोटिस भी दिया गया था आयुक्त सर के निर्देशानुसार आज अतिक्रमण हटाया गया कुल 17 मकान अवैध कब्जे थे प्रभावितों को एएचपी के मकान में शिफ्ट कराया जा रहा है।

सुनंदा चौहान स्थानीय निवासी ने बताया कि मुक्तिधाम की जमीन पर कुछ लोगों द्वारा कई सालों से अतिक्रमण किया गया था जिसे आज पार्षद के प्रयास से निगम एवं पुलिस प्रशासन द्वारा अतिक्रमण मुक्त कराया गया वैसे भी यह स्थान शमशान घाट के लिए आरक्षित था।
अतिक्रमण दल में मौके पर नगर निगम से प्रतुल श्रीवास्तव,राजू पांडेय,सोनू चौधरी,लक्ष्मीनारायण विश्वकर्मा भी उपस्तित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here